मंगलवार, 22 फ़रवरी 2011

आरती श्री गूगल महाराज.


ॐ जय गूगल हरे !!
स्वामी जय गूगल हरे !!
प्रोग्रामर्स के संकट, नेट यूजर्स के संकट !!
एक क्लिक मे दूर करे !!
ॐ जय गूगल हरे !!

जी-मेल की सुविधा !!
सब जमकर मेल करे, स्वामी मिल कर मेल करे !!
सोशल नेटवर्किंग ऑरकुट, लेखको के लिए ब्लॉगर !!
सब जन चैट करे !!
ॐ जय गूगल हरे !!

तुम देवा सर्च इंजिन !!
तुम इन्टरनेट राजा, स्वामी इन्टरनेट राजा !!
तुम होमेवोर्क कराओ, प्रोजेक्ट पूरे कराओ !!
कस्ट हरो वर्क का !!
ॐ जय गूगल हरे !!

तुम नोलेज के सागर !!
तुम पालनकर्ता, स्वामी तुम पालनकर्ता !!
मैं तो सर्चर खल्कामी, तुम हो सर्वर स्वामी !!
सब मेटर सर्च करता !!
ॐ जय गूगल हरे !!

वेब सर्च, इमेज सर्च !!
न्यूज़ भी सर्च करे, स्वामी ब्लॉग भी सर्च करे !!
अपने सर्च दिखाओ, सारी री-सर्च दिखाओ !!
साईट पे खड़ा खड़ा में तेरे !!
ॐ जय गूगल हरे !!

गूगल क्रोम ब्राऊजर !!
नेट स्पीड को तेज करे, स्वमी नेट स्पीड दोढाये !!
गूगल अर्थ घर बैठे, गूगल मैप घर बैठे !!
सारी दुनिया घुमवाए !!
ॐ जय गूगल हरे !!

गूगल देव जी की आरती !!
जो कोई भी गावे, जो नेट यूजर गावे !!
कहत "मारवाड़ी" कविवर , कहत "अमन" नेट यूजर !!
सरे वाइरस सिस्टम से पल में दूर भगे !!
ॐ जय गूगल हरे !!

- अमन अग्रवाल "मारवाड़ी"

सोमवार, 21 फ़रवरी 2011

my video of dance..................